Breaking News punjab राजनीति

कैप्‍टन अमरिंदर भी नवजोत सिद्धू की ‘लाइन’ पर, मांगा बालाकोट एयर स्‍ट्राइक का सुबूत

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार से बालाकोट एयर स्‍ट्राइक का सुबूत मांगनेे में कुछ गलत नहींं है।  भाजपा इस मामले में कांग्रेस के विरुद्ध झूठे प्रचार कर रही है। जिस तरह भाजपा बालाकोट स्‍ट्राइक को लेकर बता कर रही  है वैसे में इसका सबूत मांगनाा गलत नहीं है।

इस हमले का सबूत मांगने पर भाजपा द्वारा कांग्रेस को राष्ट्र विरोधी बताए जाने के बारे में सीएम अमरिंदर ने कहा,‘ यदि मोदी सरकार की तरफ से किए दावे मुताबिक हमले सफल हुए हैं तो यह हमारे मुल्क और सभी देशवासियों के लिए बहुत ही गर्व की बात है। इस कारण यह बताया जाए कि हमारी सेनाओं ने पाकिस्तान की इमारतों को कैसे तबाह किया और कैसे उनके घमंड को चूर-चूर किया।’

कैप्टन अमरिंंदर सिंह ने कहा, यह पहली बार नहीं कि जब किसी हमले के सबूत में बारे कहा गया है। मुझे याद है कि साल 1965 में भी फ़ौज का एक मेजर सरहद पार मारे गए दुश्मनों के काटे हुए कान लेकर आया था। इसने भारत की कार्रवाई  संबंधी शंका दूर कर दी थी। इसी तरह कारगिल ऑपरेशन की तस्वीरें भी जारी की गई थीं। उन्होंने कहा कि सरकार से सबूतों की मांग करना किसी भी तरह राष्ट्र विरोधी नहीं है।

कैप्टन अमरिंंदर सिंह ने कहा, ‘मुझे इस बात का बहुत गर्व है कि हमारे मिग -21 विमान ने पाकिस्तान के एफ-16 जहाज़ को मार गिराया। इसी तरह बालाकोट में हमारी वासुसेना की तरफ से की गई  कार्रवाई की सफलता बारे में जानकर भी खुशी होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री की तरफ से भारतीय वायुसेना की कार्रवाइयों का सियासी लाभ लेने और शहीद सैनिकों के नाम पर वोट मांगने की कोशिशें गलत है।