Bijnor police registered FIR against Independent MLA Aman Mani Tripathi and six of his associates | UP सरकार ने नहीं जारी किया था पास, झूठ बोलकर उत्तराखंड गए अमनमणि त्रिपाठी

0
388

बिजनौर: पूर्वांचल के बाहुबली नेता अमरमणि त्रिपाठी जो मधुमिता शुक्ला के हत्याकांड के लिए जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं. उनके बेटे और यूपी की नौतनवां सीट से निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी का नाम एक नए विवाद से जुड़ गया है. दरअसल अमनमणि त्रिपाठी लॉकडाउन के दौरान 6 लोगों के साथ यूपी से बद्रीनाथ और केदारनाथ गए थे.

तभी रास्ते में चमोली बॉर्डर के पास अमनमणि त्रिपाठी और उनके साथियों को रविवार रात को पुलिस ने रोका. लेकिन बाद में इन लोगों को यूपी के बॉर्डर पर लाकर छोड़ दिया गया. इसके बाद सोमवार को अमनमणि त्रिपाठी और उनके 6 साथियों को बिजनौर पुलिस ने गिरफ्तार किया. उन पर लॉकडाउन के उल्लंघन के लिए FIR दर्ज कर ली गई.

बिजनौर के एसपी ने कहा कि यूपी सरकार ने अमनमणि को उत्तराखंड जाने की अनुमति नहीं दी थी. वह अनावश्यक रूप से बाहर थे और उनके पास वैलिड पास भी नहीं था. इन लोगों को क्वारंटाइन किया जाएगा और टेस्ट किया जाएगा. एक्शन भी लेंगे.

अमनमणि त्रिपाठी पर आरोप है कि वो 3 गाड़ियों के काफिला लेकर बद्रीनाथ और केदारनाथ गए. अमनमणि त्रिपाठी पर ये भी आरोप है कि उन्होंने केदारनाथ और बद्रीनाथ जाने के लिए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के स्वर्गीय पिता की मृत्यु के बाद के कार्यों का बहाना बनाया.

यूपी सरकार ने सोमवार को मीडिया में चल रही इस खबर का खंडन किया कि यूपी सीएम ने अमनमणि त्रिपाठी को कहीं भी जाने के लिए अधिकृत नहीं किया था. अमनमणि त्रिपाठी की गिरफ्तारी यूपी में लॉकडाउन के उल्लंघन के कारण हुई है. यूपी सरकार द्वारा जारी हुआ कोई भी मूवमेंट पास उनके पास नहीं था.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here