Darul Uloom Deoband issued important fatwa Roza will not be broken by giving samples for corona test

0
62

इफ्ता विभाग के मुफ्तियों ने कहा कि कोरोना के टेस्ट के लिए हलक (मुंह) या नाक में रुई लगी जो स्टिक डाली जाती है, उस पर कोई केमिकल या दवा लगी नहीं होती. यह एक बार ही मुंह में डाली जाती है. इसलिए कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल देने से रोजेदारों का रोजा नहीं टूटेगा.

दारुल उलूम देवबंद ने जारी किया महत्वपूर्ण फतवा, कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल देने से नहीं टूटेगा रोजा

दारुल उलूम देवबंद.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here