Except red zone all shops will be able to open all other places | रेड जोन को छोड़, अन्य सभी जगह खुल सकेंगी सभी दुकानें, जानिए सभी नियम, शर्ते और छूट

0
143

विष्णु शर्मा, जयपुर: केंद्रीय गृह मंत्रालय के बाद राज्य के गृह विभाग सभी लॉक डाउन 4 को लेकर विस्तृत गाइडलाइन जारी कर दी गई है. रेड और कंटेंटमेंट जोन को छोड़कर अन्य जगह दुकान ऑफिस आदि सभी गतिविधियां शुरू करने की छूट दे दी गई है. हालांकि यह सब शाम 6 बजे ही तक खुले रहेंगे. 

जानिए गाइडलाइन में क्या कुछ खास छूट दी गई है या किन गतिविधियों पर प्रतिबंध जारी रहेगा.

कोरोना महामारी संक्रमण को रोकने के लिए देश में 18 मई से लॉक डाउन 4 शुरू किया गया है. इस लॉक डाउन में दी गई छूट को लेकर अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरूप की ओर से विस्तृत गाइडलाइन जारी की गई.

गाइडलाइन में यह प्रमुख बातें जो जनता के लिए उपयोगी है
– प्रदेश में धारा 144 लागू रहेगी. इस दौरान पांच और पांच से ज्यादा व्यक्ति एक साथ इकट्ठे नहीं हो सकेंगे. 

-प्रदेश में शाम 7 से सुबह 7 तक आवागमन बंद रहेगा एक तरह से कर्फ्यू की स्थिति रहेगी. इस दौरान लोग घरों से बाहर नहीं निकल सकेंगे. हालांकि, विशेष परिस्थितियों में पास बना कर बाहर आ जा सकेंगे.

– पुलिस जिला प्रशासन फील्ड की सक्रिय ड्यूटी में लगे कर्मचारियों पर यह आदेश लागू नहीं रहेगा.

– डॉक्टर अन्य मेडिकल स्टाफ इमरजेंसी ड्यूटी में आ जा सकेंगे.

– दवा दुकान मालिक और स्टाफ पास लेकर आ जा सकेंगे.

– ट्रक में अन्य मालवाहक वाहन का आवागमन जारी रहेगा.

– सारे कार्यालय अन्य संस्थान शाम 6बजे तक बंद हो जाएंगे 7 बजे तक सभी को घर पहुंचना होगा.

– सतत उत्पादन करने वाली और नाइट शिफ्ट फैक्ट्रियां व निर्माण गतिविधियां 7बजे बाद भी खुली रह सकेगी.

– आईटी कंपनियां और दवा की दुकानें भी खुली रह सकेंगी.

– 2 प्रदेश में इन गतिविधियों पर रहेगा प्रतिबंध.

– सभी प्रकार की घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ाने, मेडिकल इमरजेंसी और एयर एंबुलेंस को छोड़कर बंद रहेगी.

– मेट्रो रेल सर्विस बंद.

– स्कूल कॉलेज सहित सभी शैक्षणिक संस्थान कोचिंग आदि पूर्णतया बंद रहेंगे

– हालांकि ऑनलाइन क्लास आदि ले जा सकेंगे.

–  सभी धार्मिक,पूजा स्थल आमजन के लिए बंद रहेंगे ,धार्मिक सभा पूर्णतया प्रतिबंधित होगी.

– सभी सिनेमा हॉल, मॉल, शॉपिंग मॉल व्यामशाला, स्विमिंग पूल मनोरंजन पार्क थिएटर बार ऑडिटोरियम बंद रहेंगे.

– क्वॉरेंटाइन सुविधाओं , स्वास्थ्य पुलिस सरकारी अधिकारियों स्वास्थ्य कर्मियों व अन्य फंसे व्यक्तियों कि रिहायशी जरूरतों को छोड़कर सभी होटल सेवाएं बंद रहेगी.

– बस डिपो रेलवे स्टेशन एयरपोर्ट पर कैंटीन संचालन को छोड़कर अन्य सुविधाएं बंद रहेगी.

– सभी सामाजिक राजनीतिक सांस्कृतिक, खेल, मनोरंजनआदि कार्यक्रमों में भीड़ के जमावड़े पर रोक रहेगी.

– पान तंबाकू गुटखा की बिक्री पर पूर्णतया रोक रहेगी.

– कंटेनमेंट जोन को छोड़कर खेल परिसर, स्टेडियम, गोल्फ कोर्स, पोलो ग्राउंड आदि को खोलने की अनुमति होगी. हालांकि, क्लबहाउस और समान सुविधाएं नहीं खोली जाएंगी और दर्शकों को अनुमति नहीं दी जाएगी.

–  रेस्टोरेंट, भोजनालय, मिठाई की दुकानें आदि खुलेगी लेकिन टेक अवे और केवल होम डिलीवरी की अनुमति होगी.

 – सभी दुकानें खुल सकती हैं, लेकिन निम्नलिखित प्रतिबंधों के साथ.

–  दुकानदार बिना मास्क वाले  ग्राहक को सामान नहीं बेच सकेंगे. उल्लंघन पर जुर्माना, दुकान बंद करना या कानूनी कार्रवाई हो सकती है.

–   दुकान में यह सुनिश्चित करना होगा  कि एक छोटी सी दुकान में 2 से अधिक ग्राहक न हों, और एक बड़ी दुकान में 5 से अधिक ग्राहक न हों, अन्य लोगों को बाहर कतार में अपनी बारी का इंतजार करना होगा.

– प्रत्येक ग्राहक के बाद पूर्ण सुरक्षा सावधानी, सैनिटाइजेशन और स्वच्छता के साथ नाई की दुकानें, सैलून, ब्यूटी पार्लर आदि खोल सकेंगे.

– 65 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति, बीमार व्यक्ति, गर्भवती महिलाएं और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे घर पर रहेंगे.

–  विवाह समारोह के लिए एसडीएम से पूर्व अनुमति लेनी होगी.

–  समारोह में मेहमानों की अधिकतम संख्या 50 से अधिक नहीं होनी चाहिए.

– इनमें से किसी का उल्लंघन करना भारी जुर्माने के साथ अपराध और दंडनीय है.

– अंतिम संस्कार, अंतिम संस्कार संबंधित कार्यक्रमों में  20 से ज्यादा व्यक्ति नहीं होंगे. 

– यह प्रतिबंध और सावधानियां सभी जिलों के लिए लागू होंगे.

– प्रदेश में सार्वजनिक स्थानों, कार्यस्थल पर मास्क लगाना अनिवार्य होगा मास्क नहीं पहनना अपराध होगा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा.

– सार्वजनिक स्थान पर शराब, पान, गुटका, तंबाकू आदि का सेवन प्रतिबंधित रहेगा.

– वर्क स्थलों पर सभी व्यक्ति सामाजिक दूरी सुनिश्चित करेंगे, 

–  श्रमिकों के बीच पर्याप्त दूरी, पारियों के बीच पर्याप्त अंतराल, लंच ब्रेक को रोकना आदि जरूरी होगा.

ये भी पढ़ें: राजस्थान में पिंक और ब्लू कलर से आएगी शिशु मृत्यु दर में कमी

– ऑफिस, कार्य स्थानों, दुकानों, बाजारों और औद्योगिक और वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों में काम यह घंटे का पालन किया जाएगा. 

– कार्य स्थलों पर थर्मल स्कैनिंग, हैंड वाश और सैनिटाइज़र का प्रवेश और निकासी समय उपयोग किया जाएगा.

–  सभी नियोक्ता अपने कर्मचारियों को अपने मोबाइल फोन, सामान्य और व्यक्तिगत सुरक्षा के लिए आरोग्य सेतु को स्थापित करने और उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित और प्रेरित करेंगे.

-जिला कलेक्टर संबंधित विभागों एजेंसियों के माध्यम से तय करेंगे की मापदंडों का पालन हो रहा है या नहीं.

– शर्तों का पालन नहीं करने वाली इकाई बंद कर दी जाएगी और उसे खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी.

– राज्य को तीन जोन में विभक्त किया गया.

 – राज्य में क्षेत्रों को जोखिम के आधार पर तीन क्षेत्रों में वर्गीकृत किया गया है. RED ZONE, ORANGE ZONE और GREEN ZONE.  राज्य सरकार प्रोफाइल बदलने पर इन जोन को परिवर्तित कर सकती है.

–  कंटेनमेंट जोन में किसी भी प्रकार की कोई छूट लागू नहीं है. हॉटस्पॉट और कर्फ्यू क्षेत्रों के इसी प्रकार की छूट लागू नहीं होगी.

जोन वाइज प्रतिबंधित गतिविधियां इस प्रकार है.

रेड जोन में कंटेंटमेंट और कर्फ्यू को छोड़कर निम्न गतिविधियां जारी रहेगी.

– सरकारी कार्यालयों, विभागों, निजी ऑफिसों में अधिकारियों और कर्मचारियों की 50% उपस्थिति ही रहेगी.

– शेष 50% कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम पर रहेंगे.  

–  आवश्यकता अनुसार औद्योगिक, औद्योगिक और सेवा संस्थान कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए.

– सार्वजनिक, सामुदायिक पार्क बंद रहेंगे. 

–  परिवहन कोई वाणिज्यिक यात्री परिवहन (बसें, टैक्सी, ऑटो रिक्शा, साइकिल रिक्शा आदि) जब तक विशेष रूप से अनुमति नहीं है.

 ऑरेंज जोन (बाहरी क्षेत्र / कर्फ्यू क्षेत्र के बाहर):

–  रेड ज़ोन के लिए अनुमत सभी ऐसी गतिविधियों के लिए भी अनुमति दी जाएगी. 

 – सरकारी और निजी कार्यालय दो तिहाई स्टाफ के साथ खुल सकेंगे शेष स्टाफ वर्क फ्रॉम होम रहेगा.

– सार्वजनिक, सामुदायिक पार्क सुबह 7 से शाम 6.30 बजे तक फुल सकेंगे लेकिन सोशल डिस्टेंस रखनी होगी.

– किसी एक जगह पर 5 या अधिक व्यक्तियों का जमावड़ा प्रतिबंध रहेगा.

– ऑरेंज जोन में वाणिज्यिक यात्री वाहनों की अनुमति होगी:

 – टैक्सी,  टैक्सी एग्रीगेटर्स (ओला, उबेर आदि) – चालक प्लस अधिकतम 2 यात्री.  

–  ऑटो रिक्शा / साइकिल रिक्शा- चालक और एक यात्री.

– गृह विभाग द्वारा अनुमोदित मार्ग पर अंतर-शहर बस सेवा

– सिटी बसों को अनुमति नहीं दी जाएगी.

ग्रीन जोन:  

निषिद्ध गतिविधियों को छोड़कर ग्रीन जोन में सभी गतिविधियों की अनुमति है.

– व्यक्ति कार्यस्थान के लिए एक जिले से दूसरे जिले में जा सकेंगे इसके लिए पास जरूरी नहीं होगा.

– यात्री वाहनों की अंतर-राज्य आवाजाही (बसों / टैक्सियों सहित) राज्य की आपसी सहमति से हो सकेगी.

– इंटर-स्टेट और किसी भी ट्रक या अन्य मालवाहक वाहन वह नहीं रोका जाएगा.

– इंटर-स्टेट और चिकित्सा प्रोफेशनल, नर्स और पैरा-मेडिकल स्टाफ, स्वच्छता कर्मियों और एम्बुलेंस के मूवमेंट को नहीं रोक सकेंगे.

– एक जिले से राज्य के भीतर श्रम का परिवहन, उद्योग या निर्माण गतिविधि में काम करने के लिए किसी अन्य को अनुमति है.

– गृह विभाग द्वारा अनुमोदित मार्गों पर बसों के मूवमेंट को मंजूरी है. 

– ग्रीन जोन में सिटी बस सेवा को अनुमति है.

– अन्य सभी वाणिज्यिक यात्री परिवहन वाहन – टैक्सी, कैब एग्रीगेटर्स (OLA / Uber आदि) ऑटो रिक्शा, साइकिल रिक्शा भी चल सकेंगे. 

– महान की क्षमता के अनुसार यात्री बैठ सकेंगे.

– राज्य के भीतर व्यक्तियों या वाहनों की आवाजाही के लिए कोई पास की आवश्यकता नहीं होगी, जब तक कि विशेष रूप से जोनल के कारण नहीं बताया गया हो.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here