पंजाब कांग्रेस में भले ही हाईकमान ने सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष बनाकर खींचतान को खत्म मान लिया हो, लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा है। पंजाब कांग्रेस के कैप्टन बनने के बाद भी सिद्धू के तेवर नरम नहीं दिख रहे हैं और उनके कैंप की ओर से लगातार सीएम अमरिंदर सिंह पर हमला जारी है। कैप्टन अमरिंदर सिंह की ओर से मांग की गई थी कि सिद्धू को आपत्तिजनक ट्वीट्स करने को लेकर माफी मांगनी चाहिए। इस पर सिद्धू कैंप ने उलटे सीएम पर ही हमला बोला है कि माफी तो उन्हें मांगनी चाहिए क्योंकि उन्होंने जनता के वादे पूरे नहीं किए हैं।

जालंधर कैंट से विधायक और सिद्धू के करीबी नेता परगट सिंह ने कहा कैप्टन अमरिंदर सिंह माफी की बात कर रहे हैं। यदि किसी को माफी मांगनी ही चाहिए तो वह सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह हैं, जो जनता से किए गए वादों को पूरा करने में असफल रहे हैं। इस बीच कई ऐसे भी विधायक हैं, जो अब तक अमरिंदर सिंह खेमे के माने जा रहे थे, लेकिन अब सिद्धू के करीबी होते दिख रहे हैं। ऐसे ही एक विधायक तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा ने कहा कि सीएम अमरिंदर सिंह को नवजोत सिंह सिद्धू के ट्वीट्स को नजरअंदाज करना चाहिए, जैसे उन्होंने प्रताप सिंह बाजवा के साथ किया था।