Politics on the issue of bringing back the workers and students the Congress-BJP fight in Bihar | बिहार: मजदूर-छात्रों को वापस बुलाए जाने के मामले पर सियासत, कांग्रेस-BJP में घमासान

0
833

दिल्ली/पटना: ट्रेन से लगातार लाए जा रहे मजदूर और बिहार के छात्र जो देश के अलग-अलग राज्यों में फंसे हैं उन पर सियासत तेज हो गई है. दिल्ली में बिहार के सांसद और नेताओं ने यही सवाल किया है कि अभी जो भाड़ा वसूला जा रहा है बच्चों से और मजदूरों से वह पूरी तरीके से गलत है.

वहीं कांग्रेस सामने आकर मजदूरों के लिए भाड़ा देने को तैयार है. इस पर सत्ता पक्ष का कहना है कि अगर वह इतने ही धनवान हैं तो मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री राहत कोष में दे. जबकि कांग्रेस का कहना है कि वह क्यों देंगे मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री राहत कोष में. मोमबत्ती, ताली और थाली बचाने के लिए वो बिल्कुल पैसा नहीं देंगे.

कांग्रेस नेता ने सोनिया गांधी का किया शुक्रिया अदा
इस पर कांग्रेस नेता रंजीत रंजन ने कहा कि इस वक्त भी नीतीश कुमार और सुशील मोदी सिर्फ राजनीति कर रहे हैं. उन्होंने कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी का शुक्रिया अदा किया. 

उन्होंने कहा कि जिन्होंने पैसा जमा करके गरीब मजदूरों को उनके राज्य जाने के लिए हर संभव मदद पहुंचाने की कोशिश की है. गरीबों को खाना नहीं पहुंचाना और किसी तरीके से मदद नहीं करना, ये कही न कही एक गंदी राजनीति का ही उदाहरण नीतीश कुमार की सरकार ने पेश किया है.

कांग्रेस नेता रंजीत रंजन ने कहा कि मैं पूछना चाहूंगी नीतीश कुमार से और सुशील मोदी से या फिर बीजेपी सरकार से क्या कॉन्ट्रिब्यूशन है उनका मजदूरों को उनके राज्य में पहुंचाने में? 

कहा- क्यों दें पीएम-सीएम राहत कोष में पैसा
अगर वह यह सवाल कर रहे हैं कि विपक्ष प्रधानमंत्री राहत कोष में या मुख्यमंत्री राहत कोष में पैसा दे तो आखिर किसलिए दे ताली बजवाने के लिए फूल बरसाने के लिए या फिर मोमबत्ती जलाने के लिए.

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि हॉस्पिटल में डॉक्टरों को पीपीई किट नहीं मिल रहा है, उनको एक दूसरे का पहनना पड़ रहा है. सरकार ये उपलब्ध कराए.
 
कांग्रेस शुरू से अच्छे कामों की बुराई करती है- रामकृपाल यादव
इस पर बीजेपी नेता रामकृपाल यादव ने कहा कि यह सभी कांग्रेस की ही देन है. कांग्रेस शुरू से सरकार के अच्छे कामों की बुराई करती है, बेबुनियाद आरोप लगाती है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार बहुत अच्छे से कोरोना से लड़ाई लड़ रहा है. उन्होंने कहा कि मैं धन्यवाद देना चाहता हूं मुख्यमंत्री का. खासतौर पर जब उन्होंने यह निर्णय लिया है कि वह सभी के सभी सुविधाएं बच्चों और मजदूरों को अपनी तरफ से देंगे. यात्रा किराया बहुत नॉर्मल है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here