Sushant Suicide Case: Sushant Singh Rajputs house help reveals trueth about the house party | Sushant Suicide Case: नौकर ने किया बड़ा खुलासा, बोला- घटना वाली रात पार्टी हुई ही नहीं

0
251

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) आत्महत्या मामले में लगातार नए खुलासे हो रहे हैं. ज़ी मीडिया को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, सुशांत के नौकर ने बिहार पुलिस से पूछताछ के दौरान यह साफ किया है कि आत्महत्या से पहली रात सुशांत के घर कोई पार्टी नहीं हुई थी. 

सुशांत के नौकर ने बिहार पुलिस को बताया कि 13 जून की रात खाना खाने के बाद से सुशांत अपने बेडरूम में ही थे. 14 जून को भी सुशांत हर दिन की तरह सुबह जल्दी उठ गए थे. उस रात ना वे कहीं बाहर गए थे और ना ही घर पर कोई पार्टी हुई थी.

गौरतलब है कि इससे पहले मुंबई पुलिस ने भी अधिकारिक तौर पर पार्टी की खबरों को खारिज किया था. सुशांत की कॉल डिटेल से मिली जानकारी के मुताबिक सुशांत ने देर रात तकरीबन दो बजे, दो फोन कॉल किए थे. ये फोन कॉल रिया चक्रवर्ती और उनके दोस्त महेश शेट्टी को किए गए थे. लेकिन दोनों से ही उनकी बात उस रात नहीं हो सकी थी. 

ये भी पढ़ें- जदयू नेता का बड़ा बयान, Rhea Chakraborty को बताया सुपारी किलर, कही ये बात

इससे पहले दिवंगत अभिनेता के क्रिएटिव मैनेजर सिद्धार्थ पिठानी (Siddharth Pithani) ने मुंबई पुलिस को एक ईमेल लिखकर यह जानकारी दी है कि उन पर रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बयान दिए जाने को लेकर सुशांत के परिवार वालों की तरफ से दबाव बनाया जा रहा है, जबकि वह इस बारे में कुछ नहीं जानते हैं. 

सिद्धार्थ ने मुंबई पुलिस को ईमेल भेजते हुए बताया, ’22 जुलाई को मेरे पास सुशांत के परिवार से ओपी सिंह, मीतू सिंह और एक अनजान नंबर से कांफ्रेंस कॉल आया, जहां मुझसे रिया चक्रवर्ती और जब सुशांत के साथ वह माउंट ब्लैंक में रह रही थीं तो उनके खर्चों के बारे में पूछा गया. फिर 27 जुलाई को मेरे पास एक और अनजान नंबर से ओपी सिंह का फोन आया और उन्होंने मुझसे रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बिहार पुलिस को बयान देने के लिए कहा. मुझसे कहा गया था कि मेरे पास एक कॉल आएगा, उसके बाद मेरे पास एक अनजान नंबर से कॉल भी आया, लेकिन 40 सेकेंड के बाद वह कॉल कट गया और कोई बयान दर्ज नहीं हुआ था. मुझ पर रिया के खिलाफ वैसे बयान देने के लिए दवाब बनाए जा रहे हैं, जिस चीज की मुझे जानकारी नहीं है.’  

आपको बता दें कि मामले की CBI जांच को लेकर महाराष्ट्र और बिहार की सरकारों में तू-तू-मैं-मैं जारी है. महाराष्ट्र सरकार ने मामले की CBI जांच कराने से इनकार कर दिया है. 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here