UP: Corona will be at the peak between 20 and 25 April, says IIT Kanpur research | UP: 20-25 अप्रैल के बीच ‘चरम’ पर होगा Corona, रिसर्च का दावा

0
19

कानपुर: कोरोना (Coronavirus) की दूसरी लहर ने देश में कोहराम मचा रखा है. उत्तर प्रदेश (UP) में सबसे ज्यादा बुरे हालात राजधानी लखनऊ (Lucknow) के हैं. यहां पर हर दिन काफी मौते हो रही हैं. इसी बीच आईआईटी के प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल ने दावा किया है कि यूपी में कोरोना 20 से 25 अप्रैल के बीच में अपने चरम पर होगा. 

यूपी में पीक पर रहेगा कोरोना

प्रोफेसर अग्रवाल ने बताया कि यूपी में प्रतिदिन 10 हजार संक्रमित मरीजों के औसत से 20 से 25 अप्रैल तक कोरोना वायरस का संक्रमण अपने पीक पर रहने वाला है. इसके बाद से ग्राफ फिर से गिरना शुरू हो जाएगा. उन्होंने इस रिसर्च को ट्विटर अकाउंट पर भी साझा किया है. उन्होंने कहा, ‘पूर्वानुमान के उसके हिसाब से 20 से 25 अप्रैल के बीच कोरोना संक्रमण का पीक यूपी में होगा. यह गणित विज्ञान के आधार पर निकाला गया है जो संक्रमण के केस को जोड़ता है. पैरामीटर की वैल्यू एस्टीमेट करता है फिर उसका आंकड़ा निकालता है.’ 

ये भी पढ़ें:- कुत्ते बनेंगे ऑफिसर, 15 लाख रुपये होगी सैलरी, इस कंपनी ने निकाली बंपर भर्तियां

इस दिन से कम होने लगेंगे कोरोना केस

भारत की पीक अप्रैल के अंत और मई के शुरूआत में आएगी. उसके बाद केस कम होंगे. यह ग्राफ उन्होंने पिछले साल फैले संक्रमण को आधार बनाकर तैयार किया है. उनका मानना है कि यह कोरोना वायरस सात दिन तक अधिक प्रभावी रहेगा. प्रोफेसर ने बताया कि देश के जिन राज्यों में कोरोना वायर ज्यादा घातक वहां के केस और वायरस का अध्ययन करते हुए तिथि के अनुसार ग्राफ तैयार किया है. हर राज्य के लिए अलग-अलग ग्राफ तैयार करते हुए कोरोना का पीक टाइम बताया है और ग्राफ गिरने की संभावित तिथि भी बताई है.

ये भी पढ़ें:- Alert! रात 12 बजे के बाद बंद हो जाएगी बैंकों की ये सर्विस, RBI ने दी जानकारी

UP के इन शहरों में सर्वधिक मामले

रिसर्च के मुताबिक, यूपी में प्रतिदिन 10 हजार संक्रमित मरीजों के औसत से 20 से 25 अप्रैल तक कोरोना वायरस का संक्रमण अपने पीक पर रहने वाला है. इसके बाद से ग्राफ फिर से गिरना शुरू हो जाएगा. वायरस का प्रसार सात दिनों तक सर्वाधिक रहेगा और फिर धीरे-धीरे केस की संख्या कम होनी शुरू हो जाएगी. मौजूदा समय में यूपी में 1,50,676 एक्टिव केस हैं. प्रदेश में लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, कानपुर, गोरखपुर, झांसी, गाजियाबाद, मेरठ, लखीमपुर खीरी और जौनपुर में कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक मामले हैं.

किस राज्य में कब पीक पर होगा कोरोना, जानें

प्रेडिक्शन के अनुसार, ‘दिल्ली में 20-25 अप्रैल के दौरान कोरोना संक्रमण चरम पर होगा. झारखंड में भी 25-30 अप्रैल के दौरान कोरोना के चरम पर रहने की संभावना है. राजस्थान में यहां पर भी 25-30 अप्रैल के दौरान कोरोना का पीक समय होगा. ओडिशा में 26-30 अप्रैल तक कोरोना संक्रमण अपनी चरम अवस्था पर होगा. पंजाब में कोरोना वायरस का खतरा चरम पर मंडराता रहा है, लेकिन नियंत्रण करने के उपायों के चलते ग्राफ जल्दी गिरा है. 

ये भी पढ़ें:- 

तमिलनाडु में फिलहाल खतरा नहीं है, लेकिन अध्ययन पर गौर करें तो 11 से 20 मई के बीच कोरोना संक्रमण का चरम हो सकता है. आंध्र प्रदेश में 1 से 10 मई के बीच संक्रमण चरम पर होगा और दस हजार केस का औसत रहने की आशंका है. पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमण अभी प्रारंभिक अवस्था में है और 1-5 मई के दौरान चरम पर पहुंचने की संभावना है.’

LIVE TV



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here